Home Blog

आगर-मालवा के दिवानखेड़ी का सपूत गुवाहाटी में शहीद

आगर मालवा। देश की सीमा की रक्षा का संकल्प लेकर भारतीय सेना में 11 साल पहले भर्ती हुए आगर मालवा जिले के दिवानखेड़ी का रहने वाला वीर सपूत शुक्रवार रात असम के गुवाहाटी के पास शहीद हो गया। पहाड़ी इलाके की सड़क दुरूस्त करने के दौरान डोजर (जमीन को समतल करने वाली मशीन) के असंतुलित होने से बनवारी लाल के खाई में गिरने से यह हृदय विदारक हादसा हुआ। हादसे की जानकारी लगने के बाद सुसनेर एसडीएम सोहन कनास प्रशासनिक अमले के साथ दिवानखेड़ी पहुंचे। फौजी के शहीद होने की सूचना के बाद परिवार व गांव में शोक छा गया।

शाम 4:30 बजे हुआ था हादसा

सुसनेर एसडीएम कनास से प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्राम दिवानखेड़ी के बनवारीलाल राठौर सेना में अपनी सेवा दे रहे थे। वर्तमान में नायक के पद पर कार्यरत राठौर इंजीनियरिंग रेजिमेंट से जुड़े थे। शुक्रवार को शाम 4.30 बजे पहाड़ी इलाके में वीआइपी मूवमेंट के पहले सड़क पर गिरी मिट्टी को हटाने के दौरान डोजर असंतुलित हो गया था। डोजर में बैठे बनवारी लाल बचने के लिए खाई में कूद गए थे। 300 से 400 फीट गहरी खाई में गिरने के कारण बनवारीलाल गम्भीर रूप से घायल हो गए, जिन्हे साथ चल रही एंबुलेंस में प्राथमिक उपचार देने के बाद घटना स्थल से 22 किलोमीटर दूर अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां रात 8.30 बजे इलाज के दौरान इस वीर सपूत ने दुनिया को अलविदा कह दिया।

राघौगढ़ में केंद्रीय मंत्री ज्‍योतिरादित्‍य सिंधिया ने कांग्रेस नेता हीरेंद्र सिंह को भाजपा की दिलाई सदस्यता

केंद्रीय नागरिक एवं उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि आज राघौगढ़ में नया सूर्योदय हुआ है। एक नई शुरूआत, सोच, विचारधारा, उमंग और एक नया पहरेदार हीरेंद्र सिंह मेरे साथ मंच पर खड़ा है। जो आपके परिवार का सदस्य होकर आपके दुख में साथ चला है। इस दौरान सिंधिया ने हीरेंद्र के स्वर्गीय पिता मूलसिंह दादाभाई को भी याद किया। उन्होंने कहा कि मैं आज उस शख्सियत को याद करता हूं, जिनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने का मुझे मौका मिला। दादाभाई जिला पंचायत अध्यक्ष और विधायक बने, लेकिन सदैव आपके और जमीन के साथ जुड़े रहे।

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया शनिवार दोपहर दिग्विजय सिंह के गढ़ राघौगढ़ में आयोजित सभा में बोल रहे थे। इससे पहले उन्होंने ‘किला’ समर्थक स्व. मूलसिंह दादाभाई के पुत्र व युवा कांग्रेस नेता हीरेंद्र सिंह को भाजपा की सदस्यता दिलाई। इस दौरान हीरेंद्र सिंह के साथ बड़ी संख्या में समर्थकों ने भी भाजपा का दामन थाम लिया। श्री सिंधिया ने कहा कि किसानों को यूरिया खाद की कमी नहीं होने दूंगा, क्योंकि मैं रैक पर रैक भिजवा रहा हूं। इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री ने जनता से एक निवेदन भी किया। उन्होंने कहा कि अगर आप सत्य के साथ, विकास, प्रगति और सशक्त नेतृत्व मोदी के साथ चलना चाहते हैं, तो आपको उठना होगा और भविष्य की नई इबारत लिखने संकल्प लेना होगा। क्योंकि, आज से राघौगढ़ में नए अध्याय की शुरूआत हो चुकी है। इस दौरान श्री सिंधिया ने कहा कि पहले राघौगढ़ से गुना, ग्वालियर, भोपाल, देवास जाने घंटों लगते थे, लेकिन हमने 4000 करोड़ का 400 किमी फोरलेन बनाकर दिया। रेलवे विद्युतीकरण के कार्य का शुभारंभ कर दिया। क्योंकि, मुझे राजनीति से मोह नहीं है, बल्कि सेवा और प्रगति के साथ लगाव है। इससे पहले चांचौड़ा की पूर्व विधायक ममता मीना और भाजपा में शामिल हुए हीरेंद्र सिंह ने भी अपनी बात रखी।

अब आपका घोड़ा दौड़कर राघौगढ़ किले की ओर जाने वाला है

इससे पहले प्रदेश के पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेंद्रसिंह सिसोदिया ने कहा कि जिस तरह हमने कमल नाथ सरकार के अन्याय सहकर मजबूरी में कांग्रेस छोड़कर भाजपा ज्वाइन की थी। उसी तरह राज परिवार राघौगढ़ के अत्याचार सहकर मजबूरी में हीरेंद्र सिंह ने कांग्रेस छोड़ भाजपा का दामन थामा है। उन्होंने कहा कि आपने जिस व्यक्ति को चुना है, उसका सानिध्य और आशीर्वाद मिलने से आपका घोड़ा दौड़ता हुआ राघौगढ़ किले की ओर जाने वाला है। इसके साथ ही सिसोदिया ने दावा किया कि ‘बाबा’ को हर का मुंह देखना सुनिश्चित हो गया है।

गुजरात में मिला Omicron का तीसरा केस

गुजरात : गुजरात में #Omicron प्रकार का पहला मामला जामनगर में सामने आया है। जिम्बाब्वे से आया एक व्यक्ति वैरिएंट से संक्रमित था। राज्य स्वास्थ्य विभाग के अनुसार उसका नमूना पुणे भेजा गया है। देश में ओमिक्रोन वेरिएंट का यह तीसरा मामला है। मनोज अग्रवाल, एसीएस, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, गुजरात ने बताया कि जामनगर में एक व्यक्ति ओमिक्रोन पॉजिटिव मिला है। हमने उसे आइसोलेट कर दिया है और उसकी निगरानी कर रहे हैं। वह जहां रह रहे हैं वहां माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। इलाके में हम लोगों की ट्रेसिंग, टेस्टिंग करेंगे। इससे पहले कर्नाटक में दो लोगों को ओमिक्रोन वैरिएंट से संक्रमित पाया गया था। गुजरात के स्वास्थ्य आयुक्त जय प्रकाश शिवहरे ने व्यक्ति के ओमिक्रोन से संक्रमित होने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि बुजुर्ग को दो दिसंबर को कोरोना संक्रमित पाया गया था, जिसके बाद उनके नमूने की जीनोम सीक्वेंसिंग कराई थी। जामनगर के नगर आयुक्त विजय कुमार खराड़ी ने बताया कि संक्रमित व्यक्ति पिछले कई वर्षों से जिम्बाब्वे में रह रहे थे। वह अपने संबंधी से मिलने जामनगर आए थे।

उन्हें खराड़ी के गुरु गोविंद सिंह सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जिला प्रशासन उनके संपर्क में आए लोगों की तलाश में जुट गया है। बृहन्मुंबई नगरपालिका परिषद (बीएमसी) ने जोखिम वाले देशों से आने वाले यात्रियों के लिए सात के होम क्वारंटाइन को अनिवार्य बना दिया है। होम क्वारंटाइन के दौरान बीएमसी के कर्मचारी दिन में पांच बार फोन कर यात्री के स्वास्थ्य की जानकारी लेंगे।

इंदौर के नेहरू स्टेडियम में जननायक टंट्या मामा के बलिदान दिवस पर कार्यक्रम

इंदौर। जननायक टंट्या मामा भील के बलिदान दिवस पर आज मुख्य कार्यक्रम इंदौर के नेहरू स्टेडियम में हो रहा है। यहां कार्यक्रम की शुरुआत टंट्या भील पर आधारित नाटक के साथ हुई। उधर भंवर कुआं चौराहे का नाम बदलकर टंट्या भील के नाम पर रखा गया है। इस मौके पर उनके वंशजों का सम्मान किया गया। अब से यह चौराहा जन नायक टंट्या भील के नाम से जाना जाएगा। कार्यक्रम में राज्यपाल मंगुभाई पटेल और सीएम शिवराज सिंह चौहान शामिल होंगे, इसके पहले वे पातालपानी में टंट्या मामा की प्रतिमा का अनावरण करेंगे। देर रात टंट्या मामा गौरव कलश रथ यात्रा इंदौर पहुंची, जिसका राजवाड़ा पर भव्य स्वागत किया गया।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर लिखा, मातृभूमि की स्वतंत्रता और अपनी संस्कृति एवं परंपराओं की रक्षा के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले जनजातीय नायक मामा टंट्या भील जी के बलिदान दिवस पर उनके चरणों में विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने लिखा, जननायक और अमर क्रांतिकारी भगवान टंट्या भील को उनके बलिदान दिवस पर कोटिश: नमन।मातृभूमि की स्वाधीनता के लिए उनका सर्वोच्च बलिदान, संघर्ष और राष्ट्रप्रेम की अनूठी मिसाल है।

पीएम मोदी रखेंगे दिल्ली-देहरादून कॉरीडोर की नींव

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को देहरादूर का दौरा करेंगे। उत्तराखंड में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Uttarakhand Assembly Elections 2022) के मद्देनजर पीएम मोदी का यह दौरान बहुत अहम माना जा रहा है। पीएम मोदी देहरादून में 18 हजार करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे। इसके बाद वह परेड मैदान में जनसभा को संबोधित करेंगे। इस तरह भाजपा मिशन 2022 की जबरदस्त शुरुआत करने जा रही है। जानकारी के मुताबिक, पीएम मोदी जिन 11 प्रोजेक्ट्स की नींव रखी जाएगी, उनमें दिल्ली-देहरादून इकोनॉमिक कॉरिडोर (ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेसवे जंक्शन से देहरादून तक) शामिल है। साथ ही पीएम मोदी सड़कों को सुरक्षित बनाकर शहर को बच्चों के अनुकूल बनाने के लिए देहरादून में ‘चाइल्ड फ्रेंडली सिटी प्रोजेक्ट’ की आधारशिला भी रखेंगे।

लगभग 8,300 करोड़ रुपए की लागत से बनाया जाएगा। यह दिल्ली से देहरादून की दूरी को कम कर देगा और यात्रा के समय को छह घंटे से घटाकर लगभग 2.5 घंटे कर देगा। इसमें हरिद्वार, मुजफ्फरनगर, शामली, यमुनानगर, बागपत, मेरठ और बड़ौत को जोड़ने के लिए 7 प्रमुख इंटरचेंज होंगे। इस कॉरिडोर की कुल लंबाई 210 किली होगी। इस पर वाहन 100 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चल सकेंगे। एक्सप्रेसवे को भारतमाला परियोजना के तहत 2020 में  हरी झंडी दी गई थी और इसे पूरा करने की समय सीमा 2024 निर्धारित की गई है।

ओमिक्रोन वैरिएंट 40 देशों में पहुंचा, लेकिन एक भी मौत नहीं

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन (Omicron) को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) का नई रिपोर्ट राहत देने वाली है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, Omicron वायरस भारत समेत दुनिया के 40 देशों में फैल चुका है, लेकिन अब तक एक भी मरीज की मौत नहीं हुई है। इस तरह Omicron कम खतरनाक साबित हो रहा है। शुरुआती रिपोर्ट के आधार पर यह बात कही गई है। हालांकि विस्तृत रिपोर्ट मिलने में कुछ हफ्तों का समय लग सकता है। इस बीच, भारत में Omicron की एंट्री के बाद अलर्ट है, लेकिन आशंका जताई जा रही है कि कुछ संदिग्ध मरीज लापता है। जब तक इनका पता नहीं लगा लिया जाता, टेंशन बनी रहेगी।

भारत में ओंमिक्रोन के पहले दो केस बेंगलुरू में मिले थे। इनमें एक शख्स दक्षिण अफ्रीका से लौटा था, जबकि दूसरे पेश से डॉक्टर की कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं थी। इसके बाद मुंबई, दिल्ली, जामनगर, हैदराबाद, तिरुच्चिराप्पल्ली, जयपुर और श्रीनगर में भी संदिग्ध मिले। आशंका जताई जा रही है कि कुछ अन्य संदिग्ध लापता हैं, जिनका पता लगाने की कोशिश जा रही है। एयरपोर्ट पर सख्ती बढ़ा दी गई है और खतरे वाले देशों से आने पर यात्रियों की सघन जांच की जा रही है।

कर्नाटक सरकार ने शुक्रवार को कहा कि पहला ओमाइक्रोन मरीज राज्य से भाग गया है। राज्य सरकार ने गुरुवार को कहा था कि मरीज ने एक निजी लैब से कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट पेश की थी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को भारत में ओमाइक्रोन वैरिएंट के पहले मामलों की जानकारी दी, जो दोनों कर्नाटक के हैं।

विक्की कौशल और कैटरीना कैफ ने कोर्ट में शादी

फिल्म अभिनेत्री कैटरीना कैफ और अभिनेता विक्की कौशल आज 3 दिसंबर को कानूनी रूप से पति पत्नी हो जाएंगे। दरअसल आज दोनों कोर्ट मैरिज कर रहे हैं और इसके बाद 9 दिसंबर को अपनी पारंपरिक रीति रिवाज से शादी करेंगे। विक्की कौशल और कैटरीना कैफ की शादी विवाह अधिनियम 1954 के तहत रजिस्टर होगी। मुंबई में हो रही इस कोर्ट मैरिज में 3 गवाह भी रजिस्ट्रार के सामने उपस्थित होकर घोषणा पत्र पर हस्ताक्षर करेंगे।

कैटरीना कैफ और विक्की कौशल की शादी पिछले कुछ सप्ताह से चर्चा में है। हालांकि दोनों ने ही इस शादी को गुप्त रखने का फैसला किया है। लेकिन समय समय पर कैटरीना कैफ की दुल्हन की पोशाक और पूर्व-विवाह उत्सव के बारे में जानकारी मीडिया में आती रही है।

विक्की कौशल और कैटरीना कैफ अलग-अलग धार्मिक पृष्ठभूमि से ताल्लुक रखते हैं, इसलिए दोनों की शादी स्पेशल मैरिज एक्ट, 1954 के तहत होगी। कोर्ट में शादी के बाद विक्की और कैटरीना अपने परिवार के साथ इस सप्ताह के अंत में पारंपरिक रीति रिवाज के साथ शादी कार्यक्रम के लिए राजस्थान रवाना हो जाएंगे। जहां 9 दिसंबर को शादी संपन्न होगी।

कोर्ट वेडिंग के बाद विक्की कौशल और कैटरीना कैफ वीकेंड पर जयपुर जाएंगे। जयपुर हवाई अड्डे से दोनों अपने परिवार के साथ हेलीकॉप्टर से विवाह स्थल पर पहुंचे। मीडियाकर्मियों से बचने के लिए दोनों ने हेलीकॉप्टर से जाने का फैसला किया है। प्री-वेडिंग उत्सव 7 दिसंबर से शुरू होंगे। शादी समारोह में शामिल होने वाले मेहमानों को भी गोपनीयता के नियमों का पूरा ध्यान रखना होगा। मेहमानों को शादी समारोह की कोई भी तस्वीर नहीं लेने दी जाएगी। इसके अलावा सोशल मीडिया पर पर कोई मेहमान फोटो शेयर नहीं कर सकते हैं। वहीं विवाह स्थल पर मेहमानों को मोबाइल ले जाने की अनुमति नहीं होगी। विवाह कार्यक्रम के दौरान बाहरी दुनिया से सभी का संपर्क कट जाएगा। ऐसे में कोई भी विवाह स्थल का रील या वीडियो नहीं बना सकता है।

दूसरे टेस्ट में मयंक अग्रवाल ने जमाया अपना चौथा टेस्ट शतक,

भारत और न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनर बल्लेबाज मयंक अग्रवाल बेहतरीन शतक जमाया है। न्यूजीलैंड (New Zealand) के खिलाफ शुक्रवार से शुरू हुए मैच के पहले दिन मयंक ने ना सिर्फ टीम इंडिया की पारी संभाली, बल्कि अपने शतक से आलोचकों का भी मुंह बंद कर दिया। मयंक के टेस्ट करियर का ये चौथा शतक है। वैसे, टेस्ट मैच शुरू होने से पहले मयंक अग्रवाल के प्लेइंग इलेवन में जगह बना पाने को लेकर भी संदेह था, लेकिन खराब फॉर्म से जूझ रहे मयंक ने एक जुझारू पारी खेलते हुए शतक बनाया और अपने चयन को सही साबित किया। इस शतक के लिए मयंक ने 196 गेंद खेलीं, जिसमें उन्होंने 13 चौके और 3 छक्के भी जमाये।

मयंक ने पहले विकेट के लिए शुभमन गिल के साथ 80 और चौथे विकेट के लिए श्रेयस अग्रवाल के साथ भी 80 रनों की साझेदारी की। इनके शतक की मदद से टीम इंडिया ने 4 विकेट के नुकसान पर 200 रन बना लिये हैं। इससे पहले शुभमन गिल ने टिककर बल्लेबाजी करते हुए 44 रन बनाये थे। लेकिन विरोट कोहली और चेतेश्वर पुजारा बिना खाता खोले ही पैवेलियन लौट गये। भारतीय पारी एक छोर से लड़खड़ाती दिख रही थी, तो दूसरे छोर को मयंक अग्रवाल ने संभाले रखा। श्रेयस अय्यर जमने की कोशिश कर ही रहे थे कि 18 रनों के निजी स्कोर पर विकेटकीपर के हाथों कैच आउट हो गये। फिलहाल मयंक अग्रवाल और वृद्धिमान साहा क्रीज पर जमे हुए हैं।

ओमिक्रोन के 6 राज्यों में संदिग्ध मरीज मिले, महाराष्ट्र में अकेले 28 मरीज

कोरोना महामारी का नया रूप ओमिक्रोन वायरस (Omicron) भारत में भी प्रवेश कर गया है। कर्नाटक में Omicron वेरिएंट के दो केस मिलने के बाद ताजा खबर यह है कि देश के 6 राज्यों के 46 मरीजों में ओमिक्रोन की जांच की जा रही है। ये विदेश से आने पर कोरोना पॉजिटिव पाए गए मरीज हैं या ऐसे मरीजों के सम्पर्क में आए लोग हैं। नीचे देखें पूरी लिस्ट, किस राज्य में कितने संदिग्ध मरीज। स्पष्ट करे दें कि इन मरीजों में ओमिक्रोन की पुष्टि नहीं हुई है। जांच रिपोर्ट आने पर ही स्पष्ट होगा। अकेले महाराष्ट्र में ऐसे 28 मरीजों की जांच रिपोर्ट का इंतजार हो रहा है। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने यह जानकारी दी।
वहीं तमिलनाडु में स्वास्थ्य मंत्री टेनामपेट सुब्रमण्यम ने बताया कि तिरुचिरापल्ली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सिंगापुर का एक यात्री COVID पॉजिटिव पाया गया और उसे एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। जीनोम अनुक्रमण के लिए नमूने चेन्नई और बेंगलुरु भेजे गए हैं।

वहीं राजस्थान की राजधानी जयपुर से खबर है कि यहां 2 परिवारों के 9 सदस्यों में कोरोना पाया गया है। चिंता बढ़ाने वाली बात यह है कि इनमें से 4 सदस्य हाल ही में दक्षिण अफ्रीका से लौटे हैं। इसलिए ओमिक्रोन वेरिएंट की आशंका जताई जा रही है। सभी के सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं।
इस तरह अब तक की जानकारी के मुताबिक, कर्नाटक में कोरोना के दो केस मिले हैं। वहीं राजस्थान, हैदराबाद, नई दिल्ली और जामनगर ने भी चिंता बढ़ा दी है। इन शहरों में विदेश से आए कुछ मरीज कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। हैदराबाद में ब्रिटेन से आई एक महिला पॉजिटिव पाई गई है, वहीं दिल्ली में एयरपोर्ट पर हुई जांच में 6 मरीज पॉजिटिव मिले हैं। गुजरात के जामनगर में जिम्बाब्वे से आए 72 वर्षीय बुजुर्ग में कोरोना पाया गया है।

क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप्स की सीएम शिवराज ने ली बैठक

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद सीएम शिवराज सिंह चौहान आज वीडियो काफ्रेंसिंग के जरिए क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप की बैठक ली। सीएम शिवराज ने कहा कि मैं जनप्रतिनिधि मित्रों को अपील करना चाहता हूं। आपको दस्तक देना है प्रेरित करने के लिए एक मास्क के लिए, दूसरा टीकाकरण के लिए सड़कों पर उतरें। आज महाअभियान है आगे भी महाअभियान की तिथि हम तय करेंगे। टीका लगाना लोगों की जिंदगी बचाने का काम है। संक्रमण ना फैले इसके लिए सबसे जरूरी है मास्क लगाना। मैं भी मास्क लगवाने निकलूंगा, आप भी मास्क लगाएं और लोगों को मास्क लगाने का आग्रह करें। मास्क के फायदे ही फायदे हैं। इलाज की व्यवस्था हम करेंगे ही, ये चीजें अभी हम कर लेंगे तो संक्रमण ज्यादा नहीं फैलेगा।

सीएम शिवराज ने कहा कि मध्य प्रदेश की जनता को साथ लेकर, क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी को साथ लेकर कोरोना को कंट्रोल किया है। मैं कलेक्टर्स को निर्देश देता हूं कि क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी को पूरे सम्मान से सक्रिय करें। ये मिलकर काम करने का समय है। हमारे पास पर्याप्त मात्रा में दवाईयां उपलब्ध हैं। बांकी तरह के इंजेक्शन और व्यवस्थाओं की भी व्यवस्था करके हम रख रहे हैं। आक्सीजन लाने के लिए टैंकर की व्यवस्थाएं भी चाकचौबंध रखें। आक्सीजन प्लांट्स की क्षमता हमने काफी बढ़ाई है। उन्होंने कहा कि हम लहर आने ही ना दें, इसलिए मैं खुद भी काम करूंगा, क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी खुद भी काम करे। कलेक्टर्स प्रभारी मंत्रियों के साथ क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों से विस्तार से चर्चा कर लें। उसमें एनसीसी, एनएसएस, समाजसेवियों, अलग-अलग समाजों के लोगों को जोड़ें।

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दिसंबर में हमें वैक्सीन के दोनों डोज पूरे करने हैं। उन्होंने कहा कि क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियां और अधिकारी अपने-अपने शहरों में आक्सीजन प्लांट और अन्य स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को देखें। कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर अभी से तैयारी करें, अगर देश में ओमिक्रोन वैरिएंट आता है तो इसके लिए पैरामेडिकल स्टाफ को ट्रेंड करेंगे। सीएम ने कहा कि सभी अधिकारी आक्सीजन प्लांट का जायजा लेने के साथ, आक्सीजन लाइन, आक्सीजन की शुद्धता और लाइन में कोई लीकेज तो नहीं है यह देखें।