नकली सैनिटाइजर फैक्ट्री पर भोपाल में पुलिस का छापा

भोपाल। कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के चलते आपदा में अवसर की तलाश करते बड़ी कंपनियों के नाम पर नकली सैनिटाइजर बनाने वाले गिरोह फिर सक्रिय हो गए हैं। राजधानी की पुलिस ने ऐसे ही एक गिरोह का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर मौके पर दबिश देते हुए सैकड़ों लीटरं नकली सैनिटाइजर जब्त कर लिया है। फैक्ट्री के संचालक पर एफआइआर दर्ज की गई है।

रातीबड थाना प्रभारी सुदेश तिवारी के मुताबिक पुलिस को सूचना मिली थी कि इलाके स्वच्छ हर्बल कंपनी कलखेड़ा रोड द्वारा बड़े पैमाने पर नकली सैनिटाइजर बनाया जा रहा है। इस सैनिटाइजर को कैन में पैक करते हुए नामी-गिरामी कंपनी के स्टीकर लगाकर बड़े दामों पर बेचकर अवैध लाभार्जन किया जा रहा है। सूचना पर उक्त ब्रांडेड कंपनी के अधिकारियों को साथ लेकर उक्त फैक्ट्री पर छापा मारा गया। मौके से 156 नग पांच लीटर की कैन में 760 लीटर सैनिटाइजर जब्‍त किया गया। आरोपित फैक्ट्री संचालक अक्षय शर्मा निवासी जेके पार्क कोलार रोड एवं फाइज आलम निवासी पुल वोगदा के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध किया गया।

लंबे समय से उक्त कार्य में लिप्त थे। बीच में व्यापार कम हो गया तो यह काम रोक दिया। हाल ही में कोरोना के नए वैरिएंट के बाद तीसरी लहर की आशंका के चलते नकली सैनिटाइजर बनाने का कार्य पुनः शुरू कर दिया था। इस काम में इनके द्वारा 200 से 250 रुपये के सैनिटाइजर को ब्रांडेड सैनिटाइजर के रूप में बनाने पर 2000 से 2500 रुपए का बेचकर 10 गुना तक लाभ अर्जित किया जाता था। आरोपितों की इस नकली सैनिटाइजर को शहर और उसके बाहर भी इसे सप्लाई करने की तैयारी थी। पुलिस उनसे पूछताछ कर यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि वे कितने लोगों को अभी तक नकली सैनिटाइजर बेच चुके हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here