ब्याज दरों में नहीं हुआ बदलाव, 4 फीसद ही रहेगा रेपो रेट, गर्वनर शक्तिकांत दास ने किया ऐलान

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने आज (बुधवार) अपनी मौद्रिक नीति समीक्षा के नतीजे जारी कर दिए हैं। इसमें नीतिगत दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया। रेपो रेट 4 फीसद और रिवर्स रेपो रेट 3.35 फीसदी रहेगा। आरबीआई के गर्वनर शक्तिकांत दास ने इसकी घोषणा की।

1. मार्जिनल स्टैंडिंग फैसिलिटी रेट और बैंक रेट बिना किसी बदलाव के 4.25% रहेगा।

2. रेपो रेट बिना किसी बदलाव के साथ 4% रहेगा। रिवर्स रेपो रेट भी बिना किसी बदलाव के साथ 3.35% रहेगा।

3. वर्ष 2021-22 में रियल जीडीपी ग्रोथ का अनुमान 9.5 प्रतिशत पर बनाए रखा गया है।

4. उपभोक्ता मूल्य सूचकांक मुद्रास्फीति 2021-22 में 5.3% रहने का अनुमान है।

5. पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क और राज्य वैट में हालिया कटौती से क्रय शक्ति बढ़ाकर खपत की मांग का समर्थन करना चाहिए। अगस्त से सरकारी खपत भी बढ़ रही है। जिससे कुल मांग को समर्थन मिल रहा है।

6. वास्तविक सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि का अनुमान 2021-22 में 9.5% पर बरकरार रखा गया है। जिसमें Q3 में 6.6% और Q4 में 6% शामिल है।

7. साल 2022-23 की पहली तिमाही के लिए वास्तविक जीडीपी वृद्धि 17.2% और 2022-23 की दूसरी तिमाही के लिए 7.8% अनुमानित है।

8. जून 2020 से खाद्य और ईंधन को छोड़कर सीपीआई मुद्रास्फीति की निरंतरता नीतिगत चिंता का एक क्षेत्र है। यह इनपुट लागत दबावों को देखते हुए तेजी से खुदरा मुद्रास्फीति में स्थानांतरिक हो सकता है।

9. रबी फसलों की उज्जवल संभावनाओं को देखते हुए सर्दियों की आवक के साथ सब्जियों की कीमतों में मौसमी सुधार होने की उम्मीद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here