रेस्क्यू जारी… सिचुएशन रूम में सीएम शिवराज का दिल्ली यात्रा स्थगित

0
100


This image has an empty alt attribute; its file name is mpaccident.jpg

भोपाल,गंजबासौदा, Dopahar Metro News। शहरी की सीमा से लगे लाल पठार पर गुरुवार देर शाम कुएह में गिरे 14 साल के बच्चे को रेस्क्यू करने के दौरान करीब 40 लोगों ने कुएं में गिर जाने की घटना से अभी तक हडकंप मचा हुआ है। एनडीआरएफ की टीम बचाव में जुटी है। इध्ार सीएम शिवराज सिंह अपने तमाम कार्यक्रमों को रद्द कर स्टेट सिचुएशन रूम में बैठकर बचाव कार्यों का जायजा ले रहे हैं।उन्होंने रात में ही घटना की जानकारी मिलते ही टीमों को रवाना किया व प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग भी सुबह तक घटनास्थल पर मौजूद रहे। खबर लिखे जाने तक 4 शव कुएं से निकाले जा चुके थे जबकि 11 अन्य लापता की तलाश जारी थी।
ळुख्यमंत्री ने मृतको के परिवारों को पांच पांच लाख और घायलों को 5 हजार देने की घोषणा की है राहत और बचाव कार्य अभी जारी है. वह लगातार इसकी मॉनिटरिंग कर रहे हैं।बताया जाता है कि 14 साल का बच्चे को कुएं से निकालने में कुएं की मुंडेर पर काफी भीड इकट्ठी हो गई थी जिससे अचानक मुंडेर टूट गई तथा 40 से अधिक लोग कुएं में गिर गए। अब तक 20 से अधिक लोगों को बाहर निकाला जा चुका है । गुरुवार देर रात पुलिस ने कहा था कि बच्चे के रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान लोगों की भीड कुएं के आस पास जमा हो गई थी।जिससे दबाव काफी बढ गया। करीब 40 फीट गहरे कुएं में लोग गिरे हैं। वहीं प्रभारी मंत्री विश्वास सारंग ने जानकारी दी है कि आधी रात से पहले कई लोगों को बचा लिया गया था। जिनमें 13 लोगों को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया है।


ग्रामीणों का कहना है कि

ग्रामीणों के मुताबिक गुरुवार देर शाम एक बच्चा खेलते समय कुएं में गिरा था। इस हादसे की खबर पूरे गांव में फैलते ही कुएं के आसपास भारी भीड जमा हो गई। भोपाल के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, साई मनोहर ने कहा कि बच्चे को बचाने की कोशिश के दौरान ही भीड; की वजह से कुएं की बाउंड्री अचानक टूट गई। इस हादसे के बाद आठ साल बच्चे और बाकी बचे 17 लोगों की स्थिति के बारे में कुछ भी नहीं कहा जा सकता है। उन्होंने कहा कि यह बात साफ नहीं है कि दीवार गिरने और बडी संख्या में लोगों के गिरने की वजह से बच्ची को चोट लगी है या नहीं। पुलिस अधिकारी ने कहा कि अब भी कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका है। शुक्रवार सुबह से ही रेस्क्यू ऑपरेशन जारी था जो दोपहर तक जारी होने की बात प्रशासन द्वारा कही गई है। मुख्यमंत्री ने इस घटना पर जांच के आदेश भी दिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here